चारा घोटाला: लालू यादव को चौथे मामले में 14 साल की सजा और 60 लाख जुर्माना

आज की ख़बर स्टेटक्राफ्ट

Team dPILLAR: चारा घोटाले के चौथे मामले जो कि दुमका कोषागार से संबंधित था में लालू यादव को सजा सुना दी गई है. रांची की सीबीआई के विशेष आदालत के जज शिवपाल सिंह ने 7-7 साल की सजा सुनाई साथ ही 30-30 लाख का जुर्माना भी लगाया. जुर्माना नहीं भरने पर सजा एक साल और बढ़ जायेगी.

सोमवार 19 मार्च को अदालत ने दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में आईपीसी की धारा 120 बी, 467, 420, 409, 468, 471, 477 ए और पीसी एक्ट की धारा 13(2) रेड विथ 13(1)(सी)(डी) के तहत अदालत ने लालू को इस मामले में अपराधिक षडयंत्र एवं भ्रष्टाचार के तहत दोषी पाया है.

लालू यादव को 6 मामलों में से दुमका के अलावा 3 अन्य मामलों में सजा हो चुकी है

चाईबासा ट्रेजरी का पहला केस: सितंबर 2013 को दोषी माना गया. 5 साल की सजा और 25 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया. इस केस में लालू यादव को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिली हुई है.

 देवघर ट्रेजरी केस: लालू यादव समेत 16 आरोपी दोषी करार. 3.5 साल की सजा और 10 लाख रुपए का जुर्माना लगा.

 चाईबासा ट्रेजरी का दूसरा केस: लालू यादव को 5 साल की सजा और 10 लाख रुपए का जुर्माना.

 

DPILLAR